World Aids Day 2019: History, Importance, Slogans, Messages & Quotes

हर साल 1 दिसम्बर को विश्व एड्स दिवस मनाया जाता है लेकिन क्या आप जानते हैं कि वर्ल्ड एड्स डे क्यों मनाया जाता है और World Aids Day History in Hindi के बारे में है। इस लेख में इन सबके बारे में विस्तार से बताया गया है।

World Aids Day History in Hindi, विश्व एड्स दिवस क्यों मनाया जाता है

AIDS का full form यानि पूरा नाम Acquired Immuno Deficiency Syndrome है। यह एचआईवी वायरस के कारण फैलने वाला एक संक्रामक रोग हैं। एचआईवी (HIV) वायरस का पूरा नाम Human Immunodeficiency Virus हैं।

आईये जानते है कि विश्व एड्स दिवस (world aids day) क्यों मनाते हैं…

World Aids Day Kyu Manaya Jata Hai

विश्व एड्स दिवस को 1 दिसंबर के दिन पूरी दुनिया में मनाया जाता है। इस दिन को मनाने का कारण विश्व भर में इस लाइलाज बीमारी एड्स के बारे में जागरूकता फैलाना है।

यह रोग विश्व की सबसे बड़ी स्वास्थ्य समस्याओं में से एक है इसलिए एड्स दिवस मनाया जाता है ताकि लोग जान सकें कि एड्स क्या है, यह क्यों होता है, इस बीमारी से संक्रमित होने के पीछे क्या कारण होते हैं और इससे कैसे बचा जा सकता है!!

विश्व एड्स दिवस अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर सबसे ज्यादा मनाए जाने वाले स्वास्थ्य दिवस में से एक है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) तथा विभिन्न देशों की कई स्वास्थ्य संस्थाएं 1 December को इस लाइलाज बीमारी के कारणों तथा बचाव के बारे में अनेक अभियान चलाती है।

कई संस्थाओं तथा संगठनों द्वारा दिसंबर को World Aids Month के रूप में भी मनाया जाता हैं।

विश्व एड्स दिवस का इतिहास – World Aids Day History in Hindi

विश्व एड्स दिवस को मनाने की शुरुआत अगस्त 1987 में थॉमस नेटर तथा जेम्स डब्ल्यू बुन के द्वारा की गई थी। यह लोग डब्ल्यूएचओ द्वारा एड्स पर आयोजित ग्लोबल कार्यक्रम जो जिनेवा, स्विट्जरलैंड में हुआ था, में प्रतिनिधि थे।

इन लोगों ने एड्स के ग्लोबल कार्यक्रम के निदेशक डॉ जोनाथन मन्न (Jonathan Mann) के सामने एड्स दिवस को मनाने का सुझाव रखा। डॉक्टर जोनाथन को उनका यह सुझाव पसंद आया और उन्होंने इसे स्वीकृति दे दी और कहा कि हर साल 1 दिसंबर को विश्व एड्स दिवस के रूप में मनाया जाएगा जिसके परिणामस्वरूप 1 दिसंबर 1988 को पहला विश्व एड्स दिवस मनाया गया।

इस दिवस को हर साल 1 थीम के आधार पर मनाया जाता है। पहले तथा दूसरे वर्ष में एड्स दिवस की थीम children’s & young adults थी। इस कारण इस दिवस को काफी criticism सहना पड़ा क्योंकि लोगों का कहना था कि किसी भी उम्र के लोग इस बीमारी से संक्रमित हो सकते हैं।

1996 में एड्स का ग्लोबल प्रोग्राम संयुक्त राष्ट्र संघ का संयुक्त प्रोग्राम बन गया है। इस कारण अचानक से विश्वभर में एड्स दिवस का प्रचार किया गया और जागरूकता फैलाई जाने लगी। इसके अलावा यह भी तय किया गया कि एड्स के बचाव और जागरूकता फैलाने के लिए सिर्फ 1 दिन इस पर ध्यान नहीं देना चाहिए बल्कि पूरे साल प्रयास होने चाहिए।

इसके बाद 2004 में विश्व एड्स अभियान को नीदरलैंड में स्थित एक स्वतंत्र, गैर-लाभकारी संगठन के रूप में पंजीकृत किया गया।

विश्व एड्स दिवस का महत्व

यह दिन स्वास्थ्य समस्याओं को लेकर बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि दुनिया भर में लगभग 35 मिलियन से ज्यादा लोग एचआईवी एड्स से ग्रसित है। अगर 2016 की बात की जाए तो वह वर्ष एचआईवी के कारण दुनियाभर में दस लाख से से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी।

जैसा कि एड्स असुरक्षित यौन क्रिया, संक्रमित खून जैसी कई वजहों से होता है तो इन सबके बारे में लोगों में जागरूकता फैलाना जरूरी हैं इसीलिए विश्व एड्स दिवस का महत्व बढ़ जाता है।

World Aids Day 2019 in Hindi

2019 विश्व एड्स दिवस 1 दिसंबर 2019, रविवार को हैं।

World Aids Day 2019 Theme

विश्व एड्स दिवस 2019 की थीम “Communities Make the Difference” हैं।

2018 तथा 2017 में इसकी थीम क्रमशः “Know your Status” तथा “My Health, My Right” थी।

World Aids Day कैसे मनाया जाता है

दुनियाभर में एड्स दिवस को अलग अलग तरीकों से मनाया जाता है लेकिन इसके पीछे एक ही मकसद होता है: एड्स से बचाव और इसके बारे में जागरूकता फैलाना।

आप एड्स को निम्न प्रकार से मना सकते है:

  • विश्व एड्स दिवस का प्रतीक लाल रिबन है। आप एड्स के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए 1 दिसंबर को लाल रिबन अपने हाथ में पहन सकते हैं। कई लोग इसके समर्थन के लिए भी लाल रंग के कपडे भी पहनते हैं।
  • अपने सोशल मीडिया पर एचआईवी और एड्स के बारे में जानकारी शेयर करें ताकि इसके बारे में ज्यादा से ज्यादा जानें और अवेयरनेस फैला सकें।
  • स्कूल, कॉलेज या किसी संस्था में इस बारे में जागरूकता कार्यक्रम आयोजित करें।
  • स्थानीय लोगों के इस बारे में जानकारी दें और इससे बचने के तरीके बताएं।
  • किसी मेडिकल संस्था या संगठन के साथ मिलकर भी इस बारे में अवेयरनेस फैला सकते है।
  • एड्स से पीड़ित लोगों की आर्थिक सहायता कर सकते है। इससे जुड़े कई NGOs है जो एड्स से बचने के क्षेत्र में काम कर रहे है, आप उन्हें पैसा डोनेट कर सकते है।

World Aids Day Slogans in Hindi

यह कुछ विश्व एड्स दिवस के लिए स्लोगन्स (नारे) है जिनका आप एड्स रिलेटेड पोस्टर मेकिंग, अवेयरनेस कैंप में प्रयोग कर सकते है।

  • आओ मिलकर विश्व एड्स दिवस मनायें, लोगों के बीच इस विषय में जागरुकता लायें।
  • रहो स्वास्थ्य के प्रति जिम्मेदार, नहीं बनोगे एड्स के भागीदार।
  • चलाओ हर जगह एड्स जागरूकता अभियान, फिर कोई नहीं होगा इससे अनजान।
  • एड्स पीड़ित का करो सम्मान, मत बनो उनके लिए अनजान।
  • एड्स जागरूकता कार्यक्रम चलाओ, लोगों को इस लाइलाज बीमारी से बचाओ।
  • जो लापरवाही कर सुरक्षा तोड़ेगा, वो एक दिन दुनिया छोड़ेगा।
  • सुरक्षित तरीके से करो काम, फिर नहीं होगा आपका स्वास्थ्य जाम।
  • सुन मेरे भाई, रख सुरक्षा इसमें है भलाई।
  • करो आज यह वादा, रखेंगे दुनिया में एड्स को रोकने का पक्का इरादा।
  • बनाओगे अगर सुरक्षित सम्बन्ध, तो आपकी लाइफ पर नहीं लगेगा प्रतिबंध।

World Aids Day Quotes, Messages in Hindi

  • दुनिया में हर साल लाखों लोग एड्स के कारण जान गंवाते है इसलिए हमेशा सतर्क रहें, सुरक्षित रहें।
  • एड्स पीड़ित लोगों से नफरत न करें, उन्हें वो सम्मान दें जिसके वो हकदार है।
  • एड्स से नफरत करें लेकिन इसके पीड़ितों से नहीं।
  • एड्स से बचाव ही इससे बचने का सबसे बड़ा तरीका है।
  • थोड़ी देर की क्षणिक संतुष्टि के लिए अपनी जिंदगी दांव पर न लगायें।
  • हमेशा रखें इस बात की सावधानी, बाल शेव कराते इंजेक्शन लगवाते समय करें निगरानी।
  • HIV does not make people dangerous to know, so you can shake their hands and give them a hug: Heaven knows they need it.

इस प्रकार हमने विश्व एड्स दिवस और इसके इतिहास के बारे में जाना कि यह क्यों मनाया जाता है, कैसे मनाया जाता है, 2019 में वर्ल्ड एड्स डे कब है और इसकी थीम के बारे में।

Leave a Reply