15 August ki Shayari in Hindi | स्वतंत्रता दिवस पर शायरी 2019

स्वतंत्रता दिवस 2019 पर शायरी | 15 August ki Shayari Hindi Me

15 अगस्त यानि स्वतंत्रता दिवस भारत की आज़ादी का दिन है और स्वतंत्रता दिवस को स्वाधीनता दिवस के नाम से भी जाना जाता है। इस विशेष अवसर पर हम आपके लिए लाये है स्वतंत्रता दिवस शायरी या 15 अगस्त शायरी।

सात दशक पहले 15 अगस्त 1947 को भारत को अंग्रेजों से आजादी मिली थी इसलिए भारतीय इतिहास का यह सबसे महत्वपूर्ण दिवस है। आज़ादी के इस दिन को पूरे भारतवर्ष में जश्न-ए-उल्लास से मनाया जाता है और देशभर में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित होते है।

लोग सोशल मीडिया और अन्य माध्यमों से एक-दूसरे को स्वतंत्रता दिवस पर देशभक्ति शायरी भेजते है और देश की आज़ादी के लिए शहीद हुए शहीदों की शहादत को नमन करते है।

प्रस्तुत है इस सुअवसर पर 15 अगस्त शायरी इन हिंदी, स्वतंत्रता दिवस पर शायरी, अगस्त पर शेरों शायरी हिंदी में…

15 अगस्त पर शायरी | स्वतंत्रता दिवस की शायरी (15 August Shayari)

# इन 👉 independence day shayari को कॉपी करें और अपने दोस्तों तथा परिवार वालों के साथ सोशल मीडिया के जरिये शेयर करें… 👇 👇

15 अगस्त की शायरी इन हिंदी

कुछ नशा तिरंगे की आन का, कुछ नशा मातृभूमि की शान का।
लहरायेंगे ये तिरंगा हम हर जगह, नशा ये हिन्दुस्तान के सम्मान का।।

नशा है तिरंगे का, जूनून है देशभक्ति का।
चाहे आ जाये कोई, नहीं कर सकता मुकाबला हमारी शक्ति का।।

मातृभूमि से बड़ी कोई धरा नहीं, इसके लिए तैयार है जान हमारी।
भरा है इतना जोश कि बुझा देंगे दुश्मन की सुलगती हर चिंगारी।।

यह बात हवाओं को भी बताये रखना, रोशनी होगी चिरागों को भी जलाये रखना।
लहू देकर जिसकी हिफाजत की हमने, ऐसे तिरंगे को सदा दिल में बसाये रखना।।

दे सलामी इस तिरंगे को, जिससे तेरी शान है।
सर हमेशा ऊँचा रखना इसका, जब तक दिल में जान है।।

ना पूछो जमाने से कि, हमारी क्या कहानी है!
हमारी पहचान तो बस इतनी है कि हम सब हिन्दुस्तानी हैं!!

तिरंगा लहरायेंगे, भक्ति गीत गुनगुनायेंगे।
वादा करो इस देश को, दुनिया का सबसे प्यारा देश बनायेंगे।।

जो देश के लिए शहीद हुए, उनको मेरा सलाम है।
अपने खून से जिस जमीं को सींचा, उन बहादुरों को सलाम है।।

देशभक्तों से ही देश की शान है, देशभक्तों से ही देश का मान है।
हम उस देश के वीर हैं यारों, जिस देश का नाम हिंदुस्तान है।।

आन देश की, शान देश की, इस देश की हम संतान हैं।
तीन रंगों से रंगा तिरंगा, अपनी ये पहचान है।।

मैं भारत वर्ष का हरदम अमिट सम्मान करता हूँ,
यहाँ की चाँदनी मिट्टी का गुणगान करता हूँ।।
मुझे चिंता नही है स्वर्ग जाने की,
तिरंगा हो कफ़न मेरा, बस यही अरमान रखता हूँ।।

73वें स्वतंत्रता दिवस पर शायरी (15 August Par Shayari)

15 august shayari, 15 august par shayari, 15 august shayari in hindi, independence day shayari in hindi, 15 august ki shayari

सीने में जूनून और आँखों में देशभक्ति की चमक रखता हूँ।
दुश्मन की सांसे थम जायें, आवाज में इतनी धमक रखता हूँ।।

न मुझे तन चाहिए, न धन चाहिए
बस अमन से भरा यह वतन चाहिए।
जब तक जिन्दा रहूं इस मातृ-भूमि के लिए
और जब मरुँ तो तिरंगा कफ़न चाहिए।

जमाने में मिलेंगे आशिक कई,
मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं।
नोटों में और सोने में लिपटकर मरे है कई,
मगर तिरंगे से खूबसूरत कोई कफन नहीं।।

तैरना है तो समंदर में तैरो, नदी नालों में क्या रखा है।
प्यार करना है तो वतन से करो, इस बेवफ़ा लोगों में क्या रखा है।।

आज़ादी का जोश कभी कम ना होने देंगे, जब भी ज़रूरत पड़ेगी देश के लिए जान लुटा देंगे।
भारत हमारा देश है, दोबारा इस पर कोई आंच ना आने देंगे।।

खाई जिन्होने सीने पर गोली, हम उनको प्रणाम करते हैं।
जो मिट गये देश पर, हम सब उनको सलाम करते हैं।।

खुशनसीब हैं वो जो वतन पर मिट जाते हैं, मरकर भी वो लोग अमर हो जाते हैं।
करता हूँ उन्हें सलाम ए वतन पे मिटने वालों, तुम्हारी हर साँस में तिरंगे का नसीब बसता है।।

ये हिन्द था आबाद, ये आबाद रहेगा
जलवा युगों-युगों तक ये याद रहेगा।
लहराता रहेगा चमन में यूँ ही तिरंगा,
यह भारत तो ऐसे ही ज़िंदाबाद रहेगा।।

Independence Shayari in Hindi (15 अगस्त शायरियां)

इस मिट्टी का तिलक जिसने लगाया,
उसके दिल में देशभक्ति की आग जलेगी।
यह हिंदुस्तान की मिट्टी है
जो युगों-युगों तक अमर थी और सदा रहेगी।।

हिंदुस्तान पर आँख उठाये, ऐसा कोई वतन पैदा नहीं होने देंगे।
मर जायेंगे लेकिन दुश्मन के आगे शीश नहीं झुकायेंगे।।

सलाम है मेरा उन वीरों को, जिन्होंने मातृभूमि की खातिर जान लगा दी।
नमन है उन शहादतों को, जिन्होंने दुश्मनो के मसूंबो पर लगाम लगा दी।।

कर वादा कि इस वीर भूमि को सदा खुशहाल रखेंगे,
तिरंगे की ऊंचाई को आसमां में हर हाल रखेंगे।
चाहे आ जाये मुश्किलें हज़ार लेकिन
इस देश की मिट्टी को कमाल रखेंगे।।

लहरायेगा तिरंगा अब सारे आसमां पर,
भारत का नाम होगा सब की जुबान पर।
कर देंगे उसका काम तमाम अगर कोई,
जो उठायेगा आँख हमारे हिंदुस्तान पर।।

पंद्रह अगस्त हमें है प्यारा, आजादी का पर्व ये न्यारा।
मुट्ठी में आकाश कर लिया, यश गाता है ये जग सारा हमारा।

रात के अंधियारे में, जब तक रुतबा रहेगा चाँद का,
कारगिल की चोटियों पर , तब तक फैरता रहेगा तिरंगा शान का।
धरती क्या, आसमान में भी डंका बजेगा हिंदुस्तान नाम का…।।


आप सभी देशवासियों को इस स्वतंत्रता दिवस की ढेर सारी शुभकामनायें। देश को मज़बूत बनाने में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करें और देश को आगे बढ़ाएं।

आशा है आपको यह 15 August Ki Shayari पसंद आई होगी। इन ‘स्वतंत्रता दिवस की शायरी’ को शेयर जरूर करें।

Leave a Reply

Close Menu