ये है अच्छे स्टडी नोट्स बनाने के तरीके & टिप्स

इस आर्टिकल में हमने बताया है कि अच्छे व इफेक्टिव स्टडी नोट्स कैसे बनायें (notes kaise banaye) जो आपके लिए पढाई करने में बहुत हेल्पफुल साबित हो। अच्छे, शॉर्ट व पाठ्यक्रमानुसार बनाए गए स्टडी नोट्स पढ़ने पर आपके दिमाग में पढ़ी गई चीजें अधिक समय तक रहती है जिससे आप किसी भी परीक्षा में अच्छे नंबर ला सकते है।

किसी भी competitive exam या अन्य किसी परीक्षा (जैसे school exams, board exams) में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए आपको नोट्स बनाकर स्टडी करना बेहतर रहता है तथा हमने जो पढ़ा होता है, उसका रिवीजन करने के लिए नोट्स सबसे बेहतरीन विकल्प होते है।

साथ ही इस प्रकार से बनाए गये नोट्स को आप भविष्य में उपयोग के लिए एक सुरक्षित कॉपी के रूप में रख सकते है क्योंकि कई बार भविष्य में भी हमें same notes की जरूरत पड़ जाती है। इसको पढ़कर आप आसानी से जान जाओगे कि किसी भो स्टेट बोर्ड या ncert ke notes kaise banaye.

परीक्षा के महत्वपूर्ण समय में पूरे साल आपने जो पढ़ा है, उसे एक-एक करके दोबारा नहीं पढ़ा जा सकता इसीलिए शुरू से नोट्स बनाना फायदेमंद है और परीक्षा के समय आप इन्हें आसानी से पढ़ सकते है जो रिवीजन में बहुत सहायक है।

Study Notes Kaise Banaye in Hindi 2021

study notes kaise banaye in hindi

सबसे पहले बात यह आती है कि आपको नोट्स क्यों बनाने चाहिए? आप तो अपना सिलेबस किताब से ही पढ़ सकते है लेकिन जरा सोचिए कि क्या आप एग्जाम के समय अपने सम्पूर्ण सिलैबस को दोबारा एक-एक करके पढ़ सकते है?

इसका सीधा जवाब है यह आसान नहीं है। इसके अलावा भी नोट्स बनाकर पढ़ना आपके लिए कई तरीकों से फायदेमंद है। आपको अपने स्टडी नोट्स कुछ इस प्रकार बनाने चाहिए कि वो सरल, शॉर्ट, उचित व पढ़ने के लिए सबसे सुविधाजनक हो।  

आइये जानते हैं ऐसे टिप्स के बारे में जो हर स्टेट बोर्ड या एनसीईआरटी के शानदार व स्मार्ट स्टडी नोट्स बनाने में हेल्प करेंगे यानि कारगर साबित होंगे।

1. शॉर्ट स्टडी नोट्स बनायें

आपको स्टडी नोट्स हमेशा ऐसे बनाने चाहिए जो संपूर्ण पाठ्यक्रम की तुलना में शार्ट हो व पाठ्यक्रम का एक तरह से निचोड़ हो।  

स्मार्ट व इफेक्टिव नोट्स बनाने के लिए शुरू से ही यानि स्टडी सत्र के आरंभ से ही नोट्स बनाने चाहिए।  

सोचिए कि किसी पाठ या लेसन में 15 पेज है तो आपको नोट्स कितने पेज में बनाना चाहिए? … तो आपको इसके नोट्स अधिक से अधिक 5 या 6 पेज के बनाने चाहिए।

वैसे भी बुक्स में हमें चीजों को अच्छे तरीके से समझाने के लिए एक्सप्लेन करके लिखा हुआ होता है। बुक्स की तरह एग्जाम में इतने explanation से लिखने की जरूरत नहीं होती है इसलिए नोट्स को शॉर्ट्स भाषा में बनाना ही बेहतर रहता है।

2. सिलेबस (syllabus) को ध्यान में रखें

स्टडी नोट्स का सिलेबस अनुसार यानि exam oriented होना बेहद जरूरी है क्योंकि इस प्रकार से बनाये गये नोट्स एग्जाम तैयारी में बहुत महत्वपूर्ण साबित होते है।

Study नोट्स सिलेबस अनुसार बनाने के लिए आपके पास अपने बोर्ड या स्कूल का सिलेबस होना जरूरी है।

Syllabus के according बनाए गए नोट्स परीक्षा तैयारी के लिए पढ़ने में रामबाण औषधि की तरह सहायक होते है।  

Note: अगर आप सिलेबस के अलावा कुछ और सामग्री नोट्स में डालना चाहते हैं तो उन्हें अलग पेन या stared रखें ताकि परीक्षा के समय आप उन्हें ना पढ़ें एवं आपके समय की बचत हो सकें।

3. चित्र या टेबल का प्रयोग करें

वैसे भी नोट्स का मतलब पाठ्य सामग्री को कम से कम शब्दों में summarize कर लिखना होता है। इसके लिए आप चीजों को explain करने के लिए चित्र या टेबल का प्रयोग कर सकते है।  

स्टडी नोट्स को आकर्षक व इंटरेस्टिंग बनाने में टेबल बनाना व चित्रण जरूरी है।  

मान लीजिए कोई बड़ा टॉपिक है जिसे कम शब्दों में डिस्क्राइब करना आसान नहीं है तो आप उसे टेबल या चित्र के जरिए बनाकर समझ सकते हैं।  

4. विषयानुसार अलग-अलग नोट्स बनायें

आपको अपने स्टडी नोट्स सभी विषयों के अलग-अलग बनाने चाहिए ताकि परीक्षा के समय आप इन्हें आसानी से पढ़ सकें।  

अगर सभी विषयों के नोट्स एक साथ बनाएं तो किसी विषय के टॉपिक को ढूंढना मुश्किल हो जाता है और इससे समय की बर्बादी होती है इसलिए विषयानुसार अलग-अलग नोट्स बनाएं जो परीक्षा के दृष्टिकोण से उपयोगी रहेंगे।

5. नोट्स को सरलभाषा में रखें

सरल भाषा में बनाए गए स्टडी नोट्स परीक्षा की दृष्टि से महत्वपूर्ण होते हैं क्योंकि उस समय आप नोट्स पर जरा-सी भी नजर डालें तो आपने जो टॉपिक लिखा है, वो आसानी से समझ में आ जाना जरूरी है।

आपके नोट्स ऐसे होने चाहिए कि जैसे-जैसे आप उन्हें पढ़ते जायें, लिखी हुई चीजें आपके दिमाग में बैठती चली जायें।

अगर आपको कोई टॉपिक मुश्किल लगता है और आप उसे सरल भाषा में नहीं लिख पा रहे हैं तो अपने टीचर्स की मदद लें या दोस्तों से इस बारे में सलाह करें।

6. लास्ट ईयर पेपर देखें

अगर आप अपने नोट्स सिर्फ एग्जाम के दृष्टिकोण से बनाने चाहते हैं तो अंतिम वर्षों के प्रश्न पत्रों को जरूर देखें।

लास्ट ईयर के प्रश्न पत्र उठा कर आप देख सकते हैं कि किस किस प्रकार के प्रश्न पूछे गए हैं। ऐसा करने से आप अपने सिलेबस को बहुत अच्छी तरीके से analyze कर शानदार स्टडी नोट्स बना पाएंगे।

7. नोट्स खुद बनायें

आपको अपने नोट्स खुद बनाने चाहिए, न कि किसी के कॉपी करने चाहिए। किसी और के लिखे गए नोट्स उसके अपने दृष्टिकोण से लिखे गए होते हैं और वो सिर्फ उसके लिए परफेक्ट होते हैं, ना कि आपके लिए।

हां यह बात जरूर है कि आप अपने नोट्स को अच्छा व बेहतर बनाने के लिए उन नोट्स की मदद ले सकते है लेकिन आपके नोट्स self written होने चाहिए। यह बात तो आप अच्छी तरीके से जानते होंगे कि किसी दूसरे के लिखे गए नोट्स की तुलना में आप अपने हाथ से लिखे गए नोट्स को अच्छे तरीक़े से पढ़ पाते हैं।

8. Notes को थोड़ा Attractive बनाएं

नोट्स को इंटरेस्टिंग बनाने के लिए उन्हें थोड़ा आकर्षक रूप देना चाहिए। इसके लिए आप अलग-अलग कलर के पेन उपयोग कर सकते हैं।

साथ ही नोट्स बनाते समय लिखावट का ध्यान रखें ताकि नोट्स देखने में सुंदर बनें। इसके अलावा आप नोट्स बनाते समय नोट्स में पैराग्राफ्स के मध्य आवश्यक लाइन जरूर छोड़ें।

आप अपने study notes को और अधिक उपयोगी बनाने के लिए अपनी बुक्स तथा टीचर्स के अलावा कोई additional information/book का भी सहारा ले सकते हैं जो आपके सिलेबस के अनुसार हो।

Important: अच्छी पढाई करने के लिए नोट्स का आकर्षक होना कोई जरूरी नहीं है। अगर आप ऐसा कर सकते है तो जरूर करें अन्यथा नोट्स टॉपिक्स के अनुसार अच्छे होने चाहिए न कि दिखने में।

नोट्स बनाने के फायदे (Benefits Of Making Notes in Hindi)

नोट्स बनाकर पढ़ना अच्छे विद्यार्थी की पहचान होती है। इससे subjects की स्मार्ट स्टडी करने में हेल्प मिलती है।  

नोट्स आपके द्वारा पढ़े गए संपूर्ण पाठ्यक्रम का निचोड़ होते हैं जो कम समय में ज्यादा पढ़ाई कराने में हेल्पफुल है। जब आप नोट्स बनाते हैं तो पढ़ने के साथ-साथ आप लिखते भी हैं जो आपकी writing skills मजबूत करने में सहायक है और यह बात एग्जाम की दृष्टि से अच्छी है।

नोट्स में आप कम शब्दों में अधिक जानकारी पाते हैं क्योंकि सिलेबस तो आपके पढ़ा हुआ होता है और परीक्षा के समय एक बार नोट्स पढ़ने से आप पूरी चीज को समझ जाते हैं।  

आप अपने बनाए गए नोट्स को भविष्य के लिए एक सुरक्षित कॉपी के रूप में रख सकते हैं क्योंकि क्या पता वो नोट्स आपके लिए भविष्य में किसी परीक्षा तैयारी के लिए काम आ जायें।

नोट्स बनाने से आपका स्टडी मटेरियल आर्गनाइज्ड हो जाता है जिससे Study attention increase होता है और आप अच्छे से पढाई कर पाते है।

Conclusion

स्टडी नोट्स परीक्षा के दृष्टिकोण से बहुत महत्वपूर्ण होते है। अगर आप परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन चाहते हैं तो आपको नोट्स बनाकर अवश्य पढ़ना चाहिए। नोट्स आपके लिए परीक्षा में बेहतर परिणाम हासिल करने में सहायक साबित हो सकते है। जरूरत है तो सिर्फ मेहनत और स्मार्ट स्टडी की।

हम उम्मीद करते है कि आपको नोट्स कैसे बनाएं का यह लेख पसंद आया होगा। अगर आपके मन में अन्य कोई स्टडी नोट्स को बनाने का तरीका है तो कमेंट के माध्यम से अपना बहुमूल्य सुझाव अवश्य दें। हम आपके सुझाव का तहे दिल से स्वागत करेंगे।

अगर आपको यह नोट्स बनाने के टिप्स पसंद आये है तो इन्हें अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर अवश्य शेयर करें।

👇 नीचे दिए buttons पर क्लिक कर Post को शेयर करें:
5 Comments

Add a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.