Short Speech on Republic Day in Hindi 2020

Republic Day 2020 Short Speech in Hindi: 26 जनवरी भारत का राष्ट्रीय पर्व है और इस दिन स्कूल, कॉलेज समेत विभिन्न जगहों पर कई कार्यक्रम आयोजित होते है। इन कार्यक्रमों में २६ जनवरी भाषण का बहुत महत्व होता है। यहाँ हम गणतंत्र दिवस पर बच्चों के लिए भाषण लेकर आये है। Republic Day Speech for Kids & Children in Hindi

अगर आप इस 26 January 2020 यानि झंडे के दिन भाषण देने का मन बना रहे है या आपके अध्यापकों ने आपको गणतंत्र दिवस का भाषण तैयार करने को कहा है तो यह लेख आपके एकदम सही है। इसमें हमने कई sample republic day bhashan hindi me प्रोवाइड किये है।

इनमें से जो भी भाषण आपको अच्छा लगता है या मन को भाता है, उसे आप अपने स्कूल में बोल सकते है। छोटे बच्चों के लिए भी भाषण दिया है, ऐसे में अगर आपका कोई छोटा भाई बहन है तो उसे भी रिपब्लिक डे भाषण बोलने का अवसर दें या दिलाएं।

Republic Day Short Speech in Hindi – गणतंत्र दिवस पर भाषण 2020

Short Speech on Republic Day in Hindi

Short Speech on Republic Day in Hindi 2020

सम्माननीय प्रिंसिपल सर, मेरे प्रिय अध्यापकों, समस्त सहपाठियों और अभिभावक गणों को मेरा सुप्रभात,

मेरा नाम …. है और मैं क्लास … का विद्यार्थी हूं। इस शुभ अवसर के दिन में आपके समक्ष गणतंत्र दिवस पर भाषण देने जा रहा हूं।

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि आज हम यहां विद्यालय प्रांगण में 71वां गणतंत्र दिवस मनाने के लिए एकत्रित हुए हैं। 26 जनवरी का यह दिन भारत के इतिहास में विशेष महत्व रखता है। इस दिन संपूर्ण भारत में हर जगह 26 जनवरी को राष्ट्रीय उत्सव के रूप में मनाया जाता है और विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं।

हम सभी इस बात को जानते हैं कि 15 अगस्त 1947 को हमें आजादी मिली थी लेकिन उस समय भारत के पास अपना स्वयं का संविधान नहीं था यानि जितने भी नियम कायदे थे, वो ब्रिटिश सरकार के द्वारा लागू किए गए थे। ऐसे में हमें अपने देश के लिए स्वयं के कानून की आवश्यकता थी। इसके लिए डॉ भीमराव अंबेडकर की अध्यक्षता में संविधान निर्माण शुरू हुआ।

26 जनवरी 1950 का वो दिन था जब हमारे भारत में संविधान लागू हुआ था और उस वर्ष से हर साल 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है।

गणतंत्र का अर्थ है ‛जनता का तंत्र’ यानि गणतंत्र राष्ट्र में रहने वाले नागरिकों को अपने देश का नेतृत्व करने के लिए अपने प्रतिनिधियों, राजनीतिक नेताओं को चुनने का अधिकार है। इस प्रकार गणतंत्र भारत में प्रत्येक नागरिक के पास, किसी भी स्थिति भले ही वो विपरीत लिंग हो या अलग-अलग भाषी लेकिन एक समान लेकिन एक समान अधिकार होता है।

…तो आइए इस पावर पावर गणतंत्र दिवस के अवसर पर हम सभी प्रतिज्ञा लेते हैं कि हम आदर्शों पर चलेंगे, नया समाज बनाएंगे, शिक्षा को समाज के हर कोने तक पहुंचाएंगे और धर्म के भेदभाव से ऊपर उठकर उठकर नई सोच का निर्माण करेंगे। अपने देश को दुनिया का सबसे अलग और बेहतर देश बनाएंगे। जय हिंद, जय भारत

Short Speech on 26 January in Hindi

26 जनवरी यानि गणतंत्र दिवस के शुभ अवसर पर मैं अवसर पर मैं विद्यालय के आदरणीय प्रधानाध्यापक, मेरे प्यारे शिक्षक गण, सहपाठियों और सभी अभिभावकों का सादर अभिनंदन करता हूं।

आज हमारा देश बड़े ही जोश और उल्लास से 71वां गणतंत्र दिवस मनाने जा रहा है। गणतंत्र दिवस को मनाने की शुरुआत 26 जनवरी 1950 से हुई थी। हालांकि हमारे देश को आजादी 15 अगस्त 1947 को मिली थी लेकिन हमें अपने स्वयं के संविधान को बनाने के लिए लगभग ढाई साल का समय लगा और 26 जनवरी 1950 को संविधान लागू करते हुए देश का पहला गणतंत्र दिवस मनाया गया।

हमारा संविधान देश के सभी नागरिकों को एक समान अधिकार प्रदान करता है यानि देश के देश के किसी भी कोने, किसी भी राज्य के सभी नागरिकों को बराबर अधिकार प्रदान किए गए हैं।

देश के पहले राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद ने कहा था कि ‘एक संविधान और एक संघ के क्षेत्राधिकार के तहत हमने इस विशाल भूमि के संपूर्ण भाग को एक साथ प्राप्त किया है जो यहां रहने वाले 320 करोड पुरुष और महिलाओं से ज्यादा से ज्यादा लोक कल्याण कल्याण के लिए जिम्मेदारी लेता है।’ उनका यह कथन संविधान की महता को बताता है।

आइए 71 वें गणतंत्र दिवस गणतंत्र दिवस के इस शुभ अवसर पर हम प्रण लेते हैं किस देश को भ्रष्टाचार मुक्त बनाएंगे और एक बेहतर राष्ट्र का निर्माण करेंगे। आप सभी को धन्यवाद, जय हिंद। 🇮🇳 मेरा भारत महान् 🇮🇳

गणतंत्र दिवस पर छोटा भाषण for class 1, 2 & 3

माननीय मुख्य अतिथि, प्रधानाचार्य, सभी अध्यापकों और सहपाठीगण,

आज हम विद्यालय प्रांगण में गणतंत्र दिवस को मनाने के लिए एकत्रित हुए हैं। हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी 26 जनवरी का दिन हम सभी के लिए बहुत खास है क्योंकि यह हमें हमारे देश के संविधान की याद दिलाता है।

15 अगस्त 1947 को देश की आजादी के 2 वर्ष 11 माह तथा 18 दिन के बाद 26 जनवरी 1950 को संविधान लागू हुआ था। यह संविधान विश्व का सबसे बड़ा लिखित संविधान है।

26 जनवरी के अवसर पर भारत के सभी सरकारी तथा गैर सरकारी कार्यालयों स्कूलों कॉलेजों तथा प्रमुख स्थलों पर गणतंत्र दिवस मनाया जाता है। इस दौरान विभिन्न सांस्कृतिक तथा मनमोहक कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। छात्रों द्वारा अपने कई कौशलों का प्रदर्शन किया जाता है। ध्वजारोहण, राष्ट्रगान तथा परेड इस दिवस के मुख्य अंग है।

गणतंत्र दिवस के अवसर पर लाल किले पर राष्ट्रपति के द्वारा ध्वजारोहण किया जाता है। इसके साथ ही इस पावन अवसर पर विभिन्न राज्यों की झांकियों, सांस्कृतिक कार्यक्रमों का मंचन होता है। लोकतंत्र दिवस के अवसर पर राष्ट्रपति के द्वारा देश के नाम भाषण भी दिया जाता है।

आइए अंत में इन लाइनों के साथ में इस गणतंत्र दिवस के छोटे से भाषण का समापन करना चाहता हूं…

आओ मिलकर सब जाने
गणतंत्र दिवस का अर्थ,
बनाएं समाज को शक्तिशाली
और लोगों को समर्थ।।

जय हिंद, जय भारत। I Love My India

Republic Day Speech for Child in Hindi

Republic Day 2020 Children’s Speech

मंच पर विराजमान मुख्य अतिथि, प्रधानाचार्य, अध्यापकों, अभिभावक गणों और मेरे और मेरे सभी सहपाठियों को गणतंत्र दिवस की हार्दिक बधाइयां।

आज पूरा भारत 26 जनवरी का राष्ट्रीय पर्व हर्षोल्लास से मना रहा है। मैं मेरे क्लास अध्यापक और स्कूल प्रबंधन को धन्यवाद ज्ञापित करता हूं कि उन्होंने मुझे इस खास अवसर पर गणतंत्र दिवस को समर्पित एक भाषण देने का मौका दिया।

समस्त देशवासियों के लिए गणतंत्र दिवस का दिन राष्ट्रीय गौरव का दिन होता है। इस दिन बच्चों और विद्यार्थियों के चेहरे पर एक अलग ही मुस्कान होती है।

26 जनवरी को गणतंत्र दिवस इसलिए कहते हैं क्योंकि इस दिन हमारे देश का संविधान लागू हुआ था। 26 जनवरी 1950 को सुबह 10 बजकर 18 मिनट पर संविधान लागू किया गया था। संविधान को भीमराव अंबेडकर के नेतृत्व वाली समिति के द्वारा लिखा गया था। इसे लिखने में 2 साल, 11 महीने और 18 दिन लगे थे।

संविधान को लागू करने के लिए 26 जनवरी का दिन चुनने के पीछे यह कारण है कि इसी दिन 1930 में कांग्रेस के अधिवेशन में भारत में पूर्ण स्वराज्य की घोषणा की गई थी। भारतीय संविधान विश्व का सबसे बड़ा संविधान है। संविधान की हस्तलिखित प्रतियां आज भी संसद भवन में सुरक्षित रखी हुई है।

इस बार गणतंत्र दिवस पर लाल किले पर 22 राज्य अपनी झांकियां निकालेंगे। इसके अलावा भी विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे।

आओ हम सब 26 जनवरी को खुशियों और देशभक्ति के साथ मनाएं और देश को आगे बढ़ाने में मदद करें। धन्यवाद, जय हिंद

71th Republic Day Small Speech / Republic Day Speech for Kids in Hindi

मुख्य अतिथि, प्रधानाध्यापक, सहपाठियों और समस्त ग्राम वासियों को मेरा नमस्कार

मैं कक्षा 4th का छात्र …. और आज राष्ट्रीय पर्व गणतंत्र दिवस पर आप सबके समक्ष 26 जनवरी भाषण देने जा रहा हूं।

26 जनवरी 1950 को हमारे देश का संविधान लागू हुआ था। इसी की याद में हर साल 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रुप में मनाया जाता है।

जिस प्रकार स्वतंत्रता दिवस पर प्रधानमंत्री देश का झंडा फहराते हैं वही गणतंत्र दिवस के अवसर पर राष्ट्रपति लाल किले पर झंडा फहराते हैं। इसी प्रकार राज्यों में मुख्यमंत्री की बजाय राज्यपाल राज्य का झंडा फहराते हैं।

कार्यक्रम की शुरुआत राष्ट्रीय ध्वज को फहराने के साथ होती है। सभी लोग खड़े होते हैं, राष्ट्रगान गाया जाता है। इसके बाद कई सारे कार्यक्रम आयोजित होते हैं।

हम सभी विभिन्न प्रकार से गणतंत्र दिवस की तैयारियां कर इस दिन अपने चेहरे और कपड़ों पर तिरंगे में रंगे होते हैं और हाथों पर रिबन या कई स्टिकर लगाए होते है।

हमारे राष्ट्रीय ध्वज यानि तिरंगे में तीन रंग और मध्य में एक चक्र है। इन सभी रंगों का अपना अलग-अलग अर्थ है। सबसे ऊपर का केसरिया रंग हमें हमारे देश की मजबूती और हिम्मत को दर्शाता है, सफेद रोग शांति का परिचायक है और हरा रंग देश की वृद्धि और समृद्धि को अंकित करता है।

26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाने का कारण इस दिन 1950 में भारतीय संविधान के अस्तित्व में आने का है।

आप सभी को मेरी तरफ से 26 जनवरी गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं। धन्यवाद, जय हिंद…जय भारत।

👇 नीचे दिए buttons पर क्लिक कर Post को शेयर करें:

Add a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.