गूगल पर न सर्च करें इन 10 चीजों को, हो सकता है नुकसान

हम सभी को किसी के बारे में कोई जानकारी लेनी हो या कुछ पता लगाना हो तो सीधे गूगल पर जाते हैं और उससे रिलेटेड जानकारी सर्च करते हैं लेकिन आज हम बताने जा रहे हैं उन चीजों के बारे में जिन्हें गूगल पर सर्च नहीं करें क्योंकि इनकी वजह से आपको भारी नुकसान हो सकता है। इस लेख में हम यही जानेंगे कि गूगल में क्या सर्च नहीं करना चाहिए?

गूगल इंटरनेट की दुनिया का राजा है और लगभग हर वो जानकारी गूगल पर उपलब्ध है जिसके बारे में हम जानना चाहते होते हैं लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि गूगल पर कुछ भी सर्च करें।

चलिए जानते हैं उन चीजों के बारे में जिन्हें गूगल पर सर्च करना आपको मुसीबत में डाल सकता है।

इन चीजों को गूगल पर सर्च नहीं करना चाहिए – Don’t Search These Things on Google

Google par na search kare in cheezon ko, don't search these things on Google in hindi

1. कंपनी के कस्टमर केयर नंबर

हम किसी कंपनी के प्रोडक्ट या सर्विस की शिकायत करने के लिए ज्यादातर उसके हेल्पलाइन नंबर या कस्टमर केयर नंबर को ऑनलाइन गूगल पर सर्च करते हैं। कई हैकर तथा फ्रॉड लोग इन कंपनियों के फेक हेल्पलाइन नंबर को गूगल सर्च में लाते हैं।

ऐसे में जब आप किसी कंपनी के कस्टमर केयर को गूगल में सर्च करेंगे तो आपको गलत हेल्पलाइन नंबर मिल सकता है जिस पर कॉल करने से आपके पर्सनल डिटेल्स को चुराया जा सकता है।

ऐसे में आपको हमेशा कंपनी की ऑफिशियल वेबसाइट पर दिए हेल्पलाइन नंबर या प्रोडक्ट पर दिए गए नंबर पर कॉल करना चाहिए ताकि आप किसी फ्रॉड का शिकार ना हो।

2. बैंकिंग वेबसाइट्स

Digital Transaction के दौर में अक्सर हम Google पर ऑनलाइन बैंकिंग को इस्तेमाल करने के लिए बैंक की वेबसाइट और URL को सर्च करते हैं। ऐसे में जब भी आपको ऑनलाइन बैंकिंग सर्विस का इस्तेमाल करना हो, बैंक के ऑफिशियल वेबसाइट का URL ही एंटर करें।

बैंक की ऑफिशियल वेबसाइट का URL बैंकिंग डाक्यूमेंट्स में होता है।

आपको गूगल पर बैंकिंग वेबसाइट को सर्च करने से इसलिए बचना चाहिए क्योंकि बहुत सारी फिशिंग साइट्स (fake sites) गूगल पर रैंक करती है। अगर आप इंसाइड पर क्लिक कर खोलते हैं तो यह साइट आपके बैंकिंग वेबसाइट के जैसी ही दिखती है और जब आप इन साइट में अपनी बैकिंग डीटेल्स को इंटर करते हैं तो यह डिटेल्स हैकर्स के हाथों में लग जाती है और आपके बैंक अकाउंट का दुरुपयोग किया जा सकता है।

3. मेडिकल जानकारी

आजकल लोग बीमार होने पर गूगल को डॉक्टर समझने लगे हैं और खुद से दवाइयों को सर्च करते हैं और इलाज ढूंढते हैं। ऐसा करना आपके स्वास्थ्य के लिए जोखिम भरा हो सकता है।

अगर आप गूगल पर मेडिकल रिलेटेड इनफार्मेशन सिर्फ अपनी जानकारी के लिए सर्च करते हैं तो अलग बात है। यदि इलाज के लिए ऐसा कर रहे हैं तो डॉक्टर से संपर्क करें, उनकी बताई दवाई का इस्तेमाल करें और वो ही आपको सबसे सही सलाह दे सकते हैं।

4. APK Download

बहुत से एप्लीकेशन जो गूगल की पॉलिसी का पालन नहीं करते हैं, गूगल उन्हें प्ले स्टोर में जगह नहीं देता है। ऐसे में डेवलपर्स तथा लोग इन एप्लीकेशन की APK Files बनाकर साइट पर अपलोड करते हैं।

अगर आप इन एपीके फाइल्स को डाउनलोड करते हैं तो यह आपके फोन तथा आपकी डिटेल्स के लिए खतरा हो सकता है क्योंकि बहुत सारे एपीके फाइल्स में खतरनाक वायरस होते हैं।

इससे बचने के लिए apps को गूगल प्ले स्टोर या एप्पल के ऐप स्टोर से ही डाउनलोड करना चाहिए। अगर एप प्ले स्टोर या एप स्टोर में नहीं है तो उसे कंपनी की ऑफिशियल वेबसाइट से ही डाउनलोड करें, अन्य जगह से नहीं।

5. आपराधिक गतिविधियां

गूगल पर भूलकर भी कभी अपराधिक गतिविधियों से रिलेटेड जानकारी सर्च ना करें जैसे बम कैसे बनाएं, एटीएम कैसे तोड़े इत्यादि।

अगर आप ऐसा करते पाए जाते हैं तो भारतीय दंड संहिता के अंतर्गत आप को गिरफ्तार किया जा सकता है और सजा दी जा सकती है।

अगर आप सोचते हैं कि मैं अपराधी गतिविधि रिलेटेड कुछ सर्च करता हूं तो किसी को कैसे पता चलेगा तो यह बहुत आसान काम है। इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर, आईपी एड्रेस इत्यादि से आपकी पूरी डिटेल निकाली जा सकती है। विभिन्न गवर्नमेंट एजेंसी या और आईटी सेल्स इस प्रकार की गतिविधियों पर नजर बनाए रखती है।

6. एंटी वायरस और Cracked Softwares

वैसे तो एक सामान्य मोबाइल यूजर तथा कंप्यूटर यूजर को एंटीवायरस की आवश्यकता नहीं होती है क्योंकि इनमें इनबिल्ट फीचर होते हैं जो सिक्योरिटी प्रदान करते हैं।

अगर आप हैवी यूजर है या किसी अन्य वजह से अपने मोबाइल या कंप्यूटर में एंटीवायरस इंस्टॉल करना चाहते हैं तो कभी भी cracked सॉफ्टवेयर का प्रयोग ना करें। ऐसे softwares में मालवेयर और कई खतरनाक वायरस हो सकते हैं जो आपके डिवाइस को पूरी तरह नष्ट/खराब कर सकते हैं।

अगर आप एंटीवायरस लेना ही चाहते हैं तो थर्ड पार्टी वेबसाइट्स की बजाय एंटीवायरस को सॉफ्टवेयर कंपनियों की आधिकारिक वेबसाइट से ही खरीदें या डाउनलोड करें।


ये थी प्रत्येक इंटरनेट उपभोक्ता के लिए जरूरी जानकारी जिसमें हमने बताया कि गूगल पर कौन-कौन सी चीजों को सर्च नहीं करना चाहिए।

इसके अलावा आप अपने स्मार्टफोन में app scanning feature को हमेशा ऑन रखें, गूगल में safe search filter ऑन रखें ताकि गूगल आपको सुरक्षित नतीजे दिखाएं।

यह भी पढ़ें:

अगर आपको यह लेख पसंद आया है तो प्रोत्साहन के रूप में इसे सोशल मीडिया पर शेयर अवश्य करें।

This Post Has One Comment

  1. badiya jankari di hai apne.

Leave a Reply

Close Menu