आईसीसी वनडे क्रिकेट वर्ल्ड कप का इतिहास, विजेता व उपविजेता टीमें, रिकॉर्ड्स, फैक्ट्स | Cricket World Cup History in Hindi

अगर आप क्रिकेट के दीवाने हैं या क्रिकेट में रुचि रखते हैं तो क्रिकेट वर्ल्ड कप आपके लिए क्रिकेट के सबसे पसंदीदा टूर्नामेंटों में से एक जरूर होगा। यह टूर्नामेंट दुनिया भर में सबसे ज्यादा देखे जाने वाले खेल प्रतियोगिताओं में से एक है। आइये जानते है क्रिकेट वनडे वर्ल्ड कप इतिहास के बारे में।

क्रिकेट के सभी वर्ल्ड कप के बारे में जानकारी – History Of Cricket World Cup in Hindi

वनडे वर्ल्डकप आईसीसी द्वारा आयोजित कराया जाने वाला क्रिकेट का सबसे बड़ा टूर्नामेंट है जो प्रत्येक चार वर्षों के अंतराल में होता है।

ODI Cricket में World Cup को प्रीमियम टूर्नामेंट कहा जाता है क्योंकि इसमें दुनिया की टॉप क्रिकेट टीमें हिस्सा लेती है और यह फीफा वर्ल्डकप तथा ओलंपिक के बाद सबसे ज्यादा देखे जाने वाला Sport Tournament है।

क्रिकेट का पहला वर्ल्डकप सन् 1975 में खेला गया था। इसकी मेजबानी इंग्लैंड ने की थी। इसके बाद से हर चार सालों के अंतराल के बाद वर्ल्डकप का आयोजन होता आ रहा है।

सभी वर्ल्डकप के बारे में जानकारी (1975 से लेकर 2019 तक) – ODI Cricket World Cup History in Hindi

History of cricket world cup in hindi, cricket world cup ka itihaas, cricket world cup history in hindi
 

शुरूआती क्रिकेट वर्ल्डकप (1975, 1979 & 1983) में 60 ओवर्स के मैच होते थे लेकिन 1987 से यह प्रारूप बदला और ओवर्स की संख्या घटाकर 50 ओवर्स कर दी गई। इसके बाद से वर्ल्डकप में मैचेज 50-50 Overs के होते है।

आइये जानते है सभी वर्ल्डकप और उनमें टीमों के प्रदर्शन के बारे में…

क्रिकेट वर्ल्डकप 1975

यह क्रिकेट इतिहास का पहला विश्वकप था जो इंग्लैंड की मेजबानी में हुआ। यह क्रिकेट का पहला वर्ल्डकप होने के साथ-साथ कई मायनों में खास था क्योंकि इसमें एक मैच 60 ओवर्स का होता था। सभी टीम सफेद कपड़ों में लाल गेंद से खेलती थी और मैच दिन की रोशनी में खेले जाते थे क्योंकि मैदानों में फ्लड लाइट्स नहीं होती थी।

इसका आयोजन 7 जून से 21 जून 1975 तक किया गया था और कुल 15 Match खेले गये थे। टूर्नामेंट में आठ टीमों ने हिस्सा लिया था। उनमें 6 टीमें टेस्ट मैच खेलने वाली थी जबकि श्रीलंका और ईस्ट अफ्रीका दो असोसिएट टीमें थी।

सभी टीमों को दो ग्रुपों में रखा गया था और उनमें से टॉप 4 टीमें इंग्लैंड, आस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड व वेस्टइंडीज सेमीफाइनल में पहुंची थी।

फाइनल मुकाबला वेस्टइंडीज और आस्ट्रेलिया के बीच हुआ था जिसमें वेस्टइंडीज मुकाबला जीतकर पहले वनडे वर्ल्डकप का विजेता यानि चैम्पियन बना था।

क्रिकेट विश्वकप 1979

यह 9 जून से 23 जून तक इंग्लैंड में आयोजित हुआ था। यह वर्ल्डकप भी पिछले वर्ल्डकप (1975) की तरह ही था।

टीमें लगभग वही थी जो पिछले WC में खेली थी लेकिन असोसिएट टीमों में ईस्ट अफ्रीका की जगह नई टीम कनाडा को लिया गया था।

पूरा वर्ल्डकप पिछले वर्ल्डकप के फॉर्मेट के जैसा ही था। इसमें भी टीमों के दो ग्रुप बनाये गये थे और प्रत्येक ग्रुप से टॉप दो टीमों ने सेमीफाइनल में क्वालिफाई किया था। सेमीफाइनल में क्वालिफाई करने वाली चार टीमों में इंग्लैंड, न्यूजीलैंड, वेस्टइंडीज व पाकिस्तान थी।

इंग्लैंड ने पाकिस्तान तथा वेस्टइंडीज ने न्यूजीलैंड को हराकर अपने सेमीफाइनल मुकाबले जीते और फाइनल में प्रवेश किया। इस बार भी वेस्टइंडीज पिछले वर्ल्डकप की तरह फाइनल मैच जीतकर दूसरी बार विश्वकप का विजेता बना।

यह वर्ल्डकप भारतीय टीम के लिए अच्छा नहीं रहा था और टीम बिना कोई मैच जीते वर्ल्डकप से बाहर हो गई थी।

क्रिकेट वर्ल्डकप 1983

1983 विश्वकप वनडे क्रिकेट वर्ल्डकप का तीसरा संस्करण था। इसका आयोजन भी पिछले दो World Cups की तरह इंग्लैंड में हुआ था। इस WC में आठ टीमों ने हिस्सा लिया था। इन टीमों में जिम्बाब्वे एक नई टीम थी जबकि बाकी सात टीमें पिछले दोनों वर्ल्डकप खेल चुकी थी।

सभी मैचेज  लाल गेंद से 60 ओवर के खेले गये थे और टीमें सफेद कपड़ों (White Joursy) में थी। सारे मैच दिन की रोशनी में हुए थे।

इस वर्ल्डकप का फॉर्मेट पिछले World Cups की तुलना में थोड़ा अलग था हालांकि टीमों को दो ग्रुप्स में बांटा गया था लेकिन प्रत्येक टीम को ग्रुप की हर अन्य टीम के साथ दो मैच खेलने थे।

ग्रुप A में पाकिस्तान, इंग्लैंड, श्रीलंका व न्यूजीलैंड की टीमें थी और ग्रुप B में भारत, आस्ट्रेलिया, वेस्टइंडीज व जिम्बाब्वे की teams थी। ग्रुप A से पाकिस्तान तथा इंग्लैंड ने सेमीफाइनल में क्वालीफाई किया था और ग्रुप B से भारत तथा वेस्टइंडीज ने सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई किया था। ग्रुप बी से सेमीफाइनल में पहुंचने वाली दोनों टीमों ने अपने सेमीफाइनल मुकाबले जीते और फाइनल में जगह बनाई। इस वर्ल्ड कप का फाइनल मैच भारत और वेस्टइंडीज के बीच में था।

फाइनल मुकाबले में भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 183 रन बनाए लेकिन वेस्टइंडीज लक्ष्य का पीछा करते हुए सिर्फ 140 रन बना पाई और 43 रनों से मैच हार गई थी। इस प्रकार भारत ने अपना पहला वर्ल्ड कप जीता था।

इस वर्ल्ड कप में टीम इंडिया की कप्तानी कपिल देव ने की थी। कपिल देव द्वारा फाइनल मैच में लिया गया विव रिचर्ड्स का कैच आज भी क्रिकेट के बेहतरीन मूमेंट्स में से एक है। 

क्रिकेट वनडे वर्ल्डकप 1987

यह वर्ल्ड कप पिछले World Cups की तुलना में काफी भिन्न था क्योंकि इसमें 60 की बजाय 50 ओवर के मैचों का दौर शुरू हुआ तथा वर्ल्डकप पहली बार इंग्लैंड से बाहर भारत में आयोजित हुआ।

इस वर्ल्डकप का फाइनल मैच ईडन गार्डन कोलकाता में इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया के बीच हुआ। यह पहला वर्ल्डकप था जब वेस्टइंडीज फाइनल तक नहीं पहुंचा था और यह दोनों टीम इससे पहले वेस्टइंडीज से 1975 तथा 1979 वर्ल्डकप फाइनल में हार चुकी थी।

फाइनल मैच में आस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को पराजित कर पहली बार वर्ल्डकप खिताब जीता।

क्रिकेट वर्ल्डकप 1992

यह वर्ल्डकप पिछले वर्ल्डकप से चार सालों के अंतराल की बजाय पांच सालों के हुआ क्योंकि आईसीसी ने इसको आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में कराने का फैसला किया था जबकि इन देशों का मौसम वर्ल्डकप को सही समय कराने की इजाजत नहीं दे रहा था।

इस वर्ल्डकप में एक नई टीम जुड़ी थी साउथ अफ्रीका। इस वर्ल्डकप में टीमों के लिए ग्रुप्स नहीं बनाये गए थे। सभी टीमों को एक ही ग्रुप में रखा था।

न्यूजीलैंड, साउथ अफ्रीका, इंग्लैंड व पाकिस्तान इस टूर्नामेंट की सेमीफाइनलिस्ट थी जिनमें से पाकिस्तान और इंग्लैंड फाइनल में पहुंचे थे। फाइनल में पाकिस्तान इंग्लैंड को हराकर वर्ल्डकप चैम्पियन बना था। पाक की कप्तानी इमरान खान ने की थी।

You are reading here about cricket world cup history in hindi

क्रिकेट वर्ल्डकप 1996

वनडे क्रिकेट इतिहास का यह छठा वर्ल्डकप था जिसकी मेजबानी भारत, पाकिस्तान व श्रीलंका ने संयुक्त रूप से की थी।इस साल विश्वकप में टीमों के दो ग्रुप बनाये गए थे और सेमीफाइनल्स से पहले क्वार्टर फाइनल मुकाबले भी रखे गए थे। साथ ही यह पहला वर्ल्डकप था जिसमें डे-नाइट मैच हुए थे। 

श्रीलंका और आस्ट्रेलिया फाइनल में थे और श्रीलंका ने आस्ट्रेलिया को हराकर 1st time World Cup को अपने नाम किया।

क्रिकेट वर्ल्डकप 1999

यह सातवाँँ वर्ल्डकप था जो इंग्लैंड सहित पांच देशों में आयोजित हुआ था। इस वर्ल्ड कप में केन्या और स्कॉटलैंड दो नई एसोसिएट टीमों के रूप में जुड़ी थी। स्कॉटलैंड वर्ल्डकप आयोजक देशों में भी शामिल था।

वर्ल्ड कप में पाकिस्तान लगातार दूसरी बार फाइनल में पहुंचा था लेकिन आस्ट्रेलिया के हाथों उसे फाइनल मैच में मात खानी पड़ी। आस्ट्रेलिया ने यह मैच जीतकर दूसरी बार वर्ल्डकप को अपने नाम किया था।

क्रिकेट वर्ल्डकप 2003

यह वर्ल्डकप 9 फरवरी से 23 मार्च 2003 समयावधि के दौरान साउथ अफ्रीका, जिम्बाब्वे व केन्या की संयुक्त मेजबानी में खेला गया। टूर्नामेंट में कुल 14 टीमों ने भाग लिया जो कि अबतक खेले गए World Cups में सबसे ज्यादा थी।

यह टूर्नामेंट काफी उतार चढ़ाव से भरा और केन्या जो कि एक एसोसिएट टीम थी, ने सेमीफाइनल तक का सफर तय किया हालांकि सेमीफाइनल मैच में केन्या को भारत के हाथों मार खानी पड़ी।

फाइनल में भारत का मुकाबला आस्ट्रेलिया से हुआ और भारत को defeat कर तीसरी बार विश्वकप चैम्पियन बना।

क्रिकेट वर्ल्डकप 2007

यह 9वां क्रिकेट वर्ल्डकप था जो वेस्टइंडीज में 13 मार्च से 28 अप्रैल 2007 हुआ था। इस वर्ल्ड कप में 16 Cricket teams ने हिस्सा लिया था। इनमें से 6 टीम एसोसिएट थी।

World Cup 2007 का फाइनल श्रीलंका और आस्ट्रेलिया के बीच हुआ जिसमें आस्ट्रेलिया ने जीत दर्ज की। इस प्रकार आस्ट्रेलिया ने लगातार तीसरी बार और ओवरऑल चौथी बार वर्ल्डकप खिताब जीता।

You are reading here about cricket world cup history in hindi 🙂

क्रिकेट वर्ल्डकप 2011

यह वर्ल्ड कप भारत, श्रीलंका और बांग्लादेश की संयुक्त मेजबानी में आयोजित हुआ था। भारत और श्रीलंका इससे पहले भी वर्ल्डकप आयोजित करा चुके थे जबकि बांग्लादेश में पहली बार हुआ था।

इस वर्ल्डकप में टीमों को दो ग्रुपों में रखा गया था। कुल 14 टीमें थी जिनमें से चार एसोसिएट मेम्बर थे। इस में क्वार्टर फाइनल मैच भी रखे गए थे जिनमें प्रत्येक ग्रुप से चार-चार टीमें क्वार्टर फाइनल पहुंची थी। सेमीफाइनलिस्ट टीमें भारत, श्रीलंका, पाकिस्तान और न्यूजीलैंड थी। भारत ने पाकिस्तान तथा श्रीलंका ने न्यूजीलैंड को हराकर फाइनल में प्रवेश किया जहां भारत और श्रीलंका के बीच फाइनल हुआ था। फाइनल मैच भारत जीता और 1983 के बाद दूसरी बार वर्ल्डकप जीतकर विश्व चैम्पियन बना।

आईसीसी क्रिकेट वर्ल्डकप 2015

World Cup 2015 आस्ट्रेलिया व न्यूजीलैंड की मेजबानी में 14 फरवरी से 19 मार्च 2015 की समयावधि के दौरान आयोजित हुआ था। टूर्नामेंट में कुल 14 टीमों ने हिस्सा लिया जिसमें से 4 टीमें एसोसिएट टीमें थी।

इस वर्ल्ड कप का फॉर्मेट 2011 के वर्ल्ड कप की तरह था। टीम इंडिया ने अपने ग्रुप स्टेज के सभी छह मैच जीते थे और क्वार्टर फाइनल मैच भी जीता लेकिन सेमीफाइनल में इंडिया ऑस्ट्रेलिया के हाथों हार गई थी। टीम इंडिया के जीतने वाले मैचों में एक रोचक बात यह थी कि टीम ने जीते सभी 7 मैचों में विपक्षी टीम के 10 विकेट गिराए थे।

फाइनल मैच ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के मध्य हुआ जिसमें ऑस्ट्रेलिया ने जीत कर पांचवी बार वर्ल्ड कप को अपने नाम किया था।

Also read: Cricket Technologies in Hindi

आईसीसी क्रिकेट वर्ल्डकप विजेता व रनरअप सूची (Cricket World Cup Winners List In Hindi)

World Cup विजेता टीम रनरअप
1975 वेस्टइंडीज आस्ट्रेलिया
1979 वेस्टइंडीज इंग्लैंड
1983 भारत वेस्टइंडीज
1987 आस्ट्रेलिया इंग्लैंड
1992 पाकिस्तान इंग्लैंड
1996 श्रीलंका आस्ट्रेलिया
1999 आस्ट्रेलिया पाकिस्तान
2003 आस्ट्रेलिया भारत
2007 आस्ट्रेलिया श्रीलंका
2011 भारत श्रीलंका
2015 आस्ट्रेलिया न्यूजीलैंड
2019
 

क्रिकेट वर्ल्डकप रिकॉर्ड्स & फैक्ट्स (ICC World Cup Records & Facts In Hindi)

1. शुरुआती 3 वर्ल्ड कप यानि 1975, 1979 तथा 1983 के वर्ल्ड कप में एक मैच 60-60 ओवर का होता था।

2. 1987 में वर्ल्ड कप पहली बार इंग्लैंड से बाहर आयोजित हुआ।

3. इंग्लैंड की टीम 3 बार फाइनल में पहुंचने के बावजूद अभी तक वर्ल्ड कप का खिताब नहीं जीत पाई है।

4. ऑस्ट्रेलिया ने सबसे ज्यादा 5 World Cups जीते हैं जबकि दूसरे नंबर पर दो-दो वर्ल्ड कप जीतकर भारत तथा वेस्टइंडीज की टीम है।

5. इंग्लैंड की टीम ने अब तक सबसे ज्यादा 4 वर्ल्ड कप की मेजबानी की है।

6. 1993 वर्ल्ड कप से डे नाइट मैच होने लगे और लाल गेंद की जगह सफेद गेंद का प्रयोग किया गया।

7. भारतीय खिलाड़ी चेतन शर्मा पहले गेंदबाज थे जिन्होंने वर्ल्ड कप में हैट्रिक ली, 1987 वर्ल्डकप में।

8. सचिन तेंदुलकर वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी है।

9. क्लाइव लॉयड तथा रिकी पोंटिंग दो ऐसे कप्तान है जिनकी कप्तानी में टीम ने दो बार वर्ल्ड कप खिताब जीते हैं।

Also Check: Indian Premier League History in Hindi

I Hope आपको यह आर्टिकल क्रिकेट वर्ल्डकप हिस्ट्री इन हिंदी (cricket world cup history in hindi) पसंद आया होगा, comment करके अवश्य बतायें। साथ ही इसे अपने क्रिकेट प्रेमी दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें।

Leave a Reply