Dussehra Shayari in Hindi 2020 दशहरा पर शायरी – (Vijayadashami Shayari)

Dussehra Shayari Hindi: भारत त्योहारों की धरती है और दशहरा भारत के प्रमुख त्योहारों में से एक है। बुराई पर अच्छाई की जीत केे प्रतीक इस त्यौहार पर हम आपके लिए लेकर आए हैं दशहरा शायरी, दशहरे पर संदेश, दशहरे की शुभकामनाएं। Dussehra Shayari in Hindi 2020

दशहरे का पर्व हिंदी कैलेंडर के अश्विन मास के शुक्ल पक्ष की दशमी को मनाया जाता है। यह दिन बहुत खास होता है और पूरे भारत के साथ-साथ नेपाल और बांग्लादेश में भी इस त्यौहार को मनाया जाता है।

दशहरे के दिन राक्षस राजा रावण के पुतले को जलाया जाता है यानि रावण का दहन किया जाता है। इसके साथ रावण के पुत्र मेघनाथ और भाई कुंभकरण का पुतला भी जलाया जाता है।

इस साल दशहरा का पर्व 25 अक्टूबर 2020, मंगलवार को है।

दशहरे पर शायरी – Dussehra Shayari in Hindi 2020

Dussehra Shayari in Hindi 2020, dussehra par shayari, shayari on dussehra in hindi

यहाँ पर दी दशहरा शायरी और विजयादशमी शायरियों को कॉपी करें और सोशल मीडिया पर अपने प्रियजनों के साथ शेयर करें।

दशहरा शायरी

आज की नई सुबह सुहानी हो जाये, आपके दुखों की सारी बात पुरानी हो जाये।
दे इतनी खुशियाँ यह दशहरा आपको, खुशी भी आपकी मुस्कुराहट की दीवानी हो जाये।।

मन को बनाये रखो राम, कभी नहीं जीतेगा कोई रावण।
अच्छाई को हमेशा फैलाते रहो, जीत जाओगे हर रण।

मन की बुराई को दूर करो
सच्चाई से बांधों प्रीत,
खुशियों से भरेगा जीवन
सदा होगी सत्य की जीत।
हैप्पी दशहरा!

Happy Dussehra Shayari

कभी भी दुःख का आप पर पड़े ना साया,
राम के नाम का ऐसा असर हैं छाया।
हर पल धन आये आपके अंगना,
वियजदशमी पर है मेरी यही मनोकामना।।

मन में राम नाम की अलख जगाओ
सदा चलो सत्य की राह,
हर काम परिपूर्ण होगा आपका
पूरी होगी आपकी हर चाह।

आज का दिन वो जब राम ने किया था रावण का अंत,
सारे संसार ने जश्न मनाया था
खुशियां हुई थी सबको अनंत।

दशहरा बधाई सन्देश शायरी

दशहरा एक उम्मीद जगाता है, बुराई के अंत की याद दिलाता है।
जो चलता है सच्चाई और अच्छाई की राह पर, वो विजय का प्रतीक बन जाता है।।

दशहरा पर प्यारी शायरी

ऐ मेरी दिल की रानी, तेरा प्यार खड़ा है तेरे दरबार।
मार अपने मन के रावण को और आ जा इस दिल की खातर।।

दिलों की आवारगी ऐसी छायी है कि तुझ बिन रह नहीं सकता।
लेकिन मैं रावण नहीं बन सकता है क्योंकि इंसानियत बिन मैं जी नहीं सकता।।

Dussehra Shayari in hindi language

है यह हम सबकी दुआ, आप चले सदा प्रगति पथ पर।
मिटायेंगे भ्रष्टाचारी, हम सब चलें रामजी रथ पर।।

करने बुराई का नाश, जगाने दिलों में अच्छाई का एहसास।
प्रेम और सत्य का राह दिखाने, आ गया है दशहरे का ये उल्लास।

समाज से बुराईयां हटाओ ऐसे
जैसे राम ने किया था रावण का संहार,
आप एक कदम बढ़ाओ तभी
होगा इन बुराईयों पर प्रहार।
wish you happy birthday!

dussehra par shayari image hindi

dussehra shayari in hindi image, dussehra shayari image, dassari ki image photo shayari hindi me

विजयादशमी शायरी

इस विजयादशमी हर कोई प्रण लेगा, न कोई होगा कोई राक्षस।
अगर हुआ कोई ऐसा तो माँ दुर्गा बनेगी उसकी भक्षक।।

अधर्म पर धर्म की विजय, असत्य पर सत्य की विजय
बुराई पर अच्छाई की विजय, पाप पर पुण्य की विजय
अत्याचार पर सदाचार की विजय, क्रोध पर दया, क्षमा की विजय
अज्ञान पर ज्ञान की विजय, रावण पर श्रीराम की विजय
के प्रतीक पावन पर्व विजयादशमी की
हार्दिक शुभकामनाऐं।

विजयादशमी शायरी

दशहरे की शायरियां

हर बार की तरह यह दशहरा भी बुराई नाशक होगा।
अगर बना कोई रावण तो यह राम उसके लिए कीटनाशक होगा।।

दहन पुतलों का ही नहीं, बुरे विचारो का भी करना होगा।
श्रीराम का करके स्मरण हर रावण से लड़ना होगा।।

राम का नाम लेने से ही मन हो जाता है पवित्र,
जैसे तन पर छिड़का हो कोई इत्र,
सब कुछ सच्चाई से भर जाता
बुराईयां नहीं रहती भीतर।

आपके लिए खुशियों की अलग जगाये राम नाम की ज्योति,
सदा सुखी रहने का आशीर्वाद मिले आपको
चेहरे से चमके आपके परम सद्भाव की ज्योति।
हैप्पी दशहरा 2020

दशहरा पर्व पर शायरी 2020

समाज की हर बुराई को भगाना होगा, बनके राम आज हम सबको जागना होगा।
न सिर्फ दशहरा, हमें हर दिन यह नियम पालना होगा।

बुराई पर अच्छाई की यह जीत है, सबको लगाओ गले।
हम सब सच्चाई के साथी, आज बुराई को निपटाने चले।

ख़ुशी से भरा रहे आपका जीवन
कभी ना आये कोई मुश्किल प्रहार,
दशहरे की शुभकामनाएं देते है
हम आपको सपरिवार।

दशहरा के बधाई सन्देश

आपको और आपके पूरे परिवार को इस दशहरे की हार्दिक बधाइयाँ 2020

आप हमेशा की तरह सच्चाई के साथी रहो और समाज से बुराइयों को भगाओ। इस दशहरे हमारी यही है आपको शुभकामना।

दशहरे का यह प्यारा त्यौहार, आपके जीवन में खुशियां लाये हज़ार। यही है रब से हमारी दुआ, आपको दशहरे की ढेर सारी शुभकामना।

A time for celebration, A time for victory of good over bad,
A time when world see the example of power of good.
Let us continue the same “true” spirit.
Blessing of Dussehra


अधर्म पर धर्म की और सच्चाई पर अच्छाई की जीत के प्रतीक दशहरे और विजयादशमी को इस प्रण के साथ मनाएं कि आप सदा सत्य और धर्म के पथ पर चलेंगे, किसी के साथ जानबूझकर बुरा नहीं करेंगे यानि खुद में रावण नहीं पनपने देंगे। यही असल मायने में हम सबके लिए दशहरा होगा।

यह भी पढ़ें:

अगर आपको यह लेख दशहरा पर शायरी पसंद आया है तो इसे सोशल मीडिया पर शेयर अवश्य करें।

👇 नीचे दिए buttons पर क्लिक कर Post को शेयर करें:

Add a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.