जानें कैसे बनें अपनी क्लास के टॉपर – How to Become Class Topper

अगर आप एक स्टूडेंट है और किसी स्कूल या कॉलेज में पढ़ रहे है तो आपके मन में यह सवाल जरूर आता होगा कि Topper kaise bane या class me top kaise kare?

पढाई करना स्टूडेंट लाइफ का एक महत्वपूर्ण हिस्सा होता है। इस समय किसी भी स्टूडेंट को हर कोई यह सलाह देता है कि आप अच्छी तरह से पढाई करें। यह जीवन में सफल बनने और सक्सेसफुल होने के लिए जरूरी है।

अगर आप बढ़िया पढ़ाई करके क्लास टॉप करते है यानि क्लास टॉपर बनते है तो हर कोई आपको appreciate करता है, आपके साथी तथा लोग आपको जानने लगते है। इससे आपको आगे और अच्छी तरीके से पढ़ने का मोटिवेशन मिलता है इसलिए आपको यह जानना जरूरी है कि क्लास में टॉप कैसे किया जाता है, एक टॉपर स्टूडेंट किस तरीके से पढता है और वो हर साल class me top कैसे करता है!

नियमित रूप से पढ़कर, पढाई में मन लगाकर, full concentrate होकर स्टडी करकर कोई भी स्टूडेंट टॉप कर सकता है। अगर आप एक एवरेज स्टूडेंट है तो भी चिंता न करें क्योंकि इस पोस्ट में दी गई सभी टिप्स को आप फॉलो करते है तो क्लास टॉपर बनना कोई मुश्किल काम नहीं है।

क्लास में टॉप करने की टिप्स – Class me Top kaise kare

class me top kaise kare

यहाँ दिए गए सभी टिप्स को फॉलो करें। यह आपको मेहनत करने के साथ स्मार्ट स्टडी करना सिखाएंगे। तो चलिए जानते है how to become class topper in hindi, class me top karne ke tarike

1. पढ़ाई को Interest के रूप में लें

किसी भी काम में सफल होने के लिए उसमे इंट्रेस्ट होना जरूरी है अन्यथा आप उस काम को अच्छे से नहीं कर पाएंगे। यही बात पढाई पर लागू होती है क्योंकि बहुत से स्टूडेंट पढाई को बोझ की तरह समझते है और रूचि नहीं रखते है। इसके कारण वे कभी क्लास में टॉप या बेहतर प्रदर्शन नहीं कर पाते है।

जिस प्रकार आप ऑनलाइन गेमिंग या एंटरटेनिंग वीडियोस को देखना पसंद करते है, उसी तरह आज से स्टडी को as an interest लें और ज्यादा से ज्यादा मेहनत करें एवं अपनी क्लास के टॉपर बनें।

2. रेगुलर क्लास लें

एक टॉपर स्टूडेंट की निशानी होती है कि वो रेगुलर क्लास में जाता है और किसी भी सब्जेक्ट के पीरियड को मिस नहीं करता है। अगर आप भी class topper बनना चाहते है या अच्छे नंबर लाना चाहते है तो हमेशा क्लास लेने की आदत डालनी होगी।

कहा जाता है कि अगर कोई स्टूडेंट रेगुलर स्कूल जाये और क्लास में ध्यान दें तो उसका 50% सिलेबस वहीं पर पूरा हो जाता है क्योंकि regular class attend करने से study topics पर ध्यान केंद्रित रहता है और student उन्हें अच्छे से समझ पाता है।

साथ ही नियमित क्लास लेने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि अगर आपको कोई टॉपिक समझ में नहीं आता है जबकि आप उस टॉपिक को पढ़ाने के दौरान क्लास में थे तो आप उस टॉपिक को घर आकर खुद से पढ़ेंगे तो समझ आ जायेगा।

ज्यादातर स्टूडेंट्स की गलती यह होती है कि वे क्लास में जो पढ़ाया जाता है, उस पर ध्यान नहीं देते है और फिर घर जाकर उनका पढ़ने का बिल्कुल मन नहीं करता है जिससे वे सिर्फ एवरेज स्टूडेंट बनकर रह जाते है और क्लास में टॉप कभी नहीं कर पाते है।

अत: क्लास में जो पढ़ाया जाये, उसे ध्यान से समझें और घर जाकर दोहराएं यानि दोबारा पढ़ें जिससे पूरा topic/concept क्लियर हो जाता है।

3. Syllabus के अनुसार पढ़ें

Make sure कि आप जो भी पढ़ रहे है, वो पाठ्यक्रमानुसार है।

किसी भी एग्जाम या क्लास में टॉपर बनने के लिए syllabus के according पढ़ाई करना जरूरी है क्योंकि परीक्षा में सिर्फ सिलेबस के अनुसार प्रश्न पूछे जाते है ।

ध्यान रखें कि अगर आप syllabus के अलावा extra topics को पढ़ते हैं तो हो सकता है कि syllabus को पूरा ना पढ़ पाए।

अगर आपको अपने एग्जाम के सिलेबस क्या है की जानकारी नहीं है तो अपने बोर्ड की वेबसाइट पर चेक करें या सहायक किताबें जैसे पास बुक्स के शुरूआती पेजेज पर देखें, syllabus मिल जायेगा।

4. Weak Subject को अतिरिक्त समय दें

टॉपर विद्यार्थी वही होता है जिसकी हर विषय पर अच्छी पकड़ होती है। आप एक-दो विषय में अच्छा होकर टॉपर नहीं हो सकते क्योंकि class topper बनने के लिए हर सब्जेक्ट में अच्छे नंबर लाना जरूरी है।

स्टूडेंट्स के एग्जाम में कम नंबर आने का एक सबसे बड़ा कारण यह होता है कि वे सिर्फ उसी विषय को पढ़ते है जो उन्हें अच्छा लगता है और समझ आता है लेकिन क्लास में टॉपर बनने के लिए सभी सब्जेक्ट्स में अच्छे मार्क्स लाना जरूरी है।  

अत: आपको Weak सब्जेक्ट को टाइम टेबल में थोड़ा extra time देकर पढ़ना होगा।

वीक सब्जेक्ट को पढ़ने में ये टिप्स मदद करेंगे…

  • वीक सब्जेक्ट को अपने स्टडी टाइम टेबल में थोड़ा ज्यादा समय दें।
  • कोई प्रॉब्लम होने पर साथी स्टूडेंट्स को पूछें।
  • टीचर्स से इस बारे में पूछते रहें।

अगर आपके पास स्मार्टफोन या लैपटॉप है तो यूट्यूब, unacadmy इत्यादि कई प्लेटफॉर्म्स पर अपने weak subject रिलेटेड वीडियोस देख सकते है।

5. टाइम टेबल बनाकर पढ़ें

mostly students बिना टाइम टेबल के पढ़ते है। जब उनका मन होता है, पढ़ने बैठ जाते है और उठ जाते है। इस प्रकार से इफेक्टिव स्टडी नहीं हो पाती है।

Effective study करने के लिए टाइम टेबल बनाकर पढ़ना जरूरी है। टाइम टेबल बनाकर एक रूटीन से पढ़ने से कम समय पढ़कर भी उसका अधिक आउटपुट निकाला जा सकता है।

एक brilliant student बनने के लिए समय का सदुपयोग करना जरूरी है। अपनी दैनिक क्रियाओं तथा रोजमर्रा के कामों को निकाल कर इस प्रकार से टाइम टेबल बनाएं कि आप हर सब्जेक्ट को समय दे पायें। टाइम टेबल आपको बताता है कि किस विषय को कितना समय देना है और किस प्रकार से पढ़ना है।

कोई भी स्टूडेंट जो क्लास में टॉप करता है, टाइम टेबल से पढता है। अत: क्लास को टॉप करने के लिए आपको Time-Table से पढ़ना आवश्यक है।

6. Notes बनाकर पढ़ें

Notes बनाकर पढ़ने से समझने में आसानी रहती है। अगर आप किसी पाठ को अच्छे से पढ़ व समझ लेते है तो भविष्य में आप इन पाठों को नोट्स से आसानी से क्लियर कर लेंगे।

नोट्स बनाने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि एक बार सिलेबस को पढ़ने के बाद परीक्षाओं के नज़दीक आने पर नोट्स से रिवीज़न करने में आसानी होती है और सभी विषयों को टाइम रहते पढ़ने में हेल्प मिलती है। नोट्स रिवीजन करने में बेहद सहायक सामग्री है।

7. Last Year Papers Solve करें

यह भी एक महत्वपूर्ण बात है कि आप अंतिम वर्षों के प्रश्न पत्रों को हल करें। इन प्रश्न पत्रों को हल करने से परीक्षा का पैटर्न व टाइम मैनेजमेंट के बारे में पता चल जाता है।

अंतिम वर्षों के प्रश्न पत्रों को हल करने के अलावा आप स्कूल/कॉलेज में होने वाले टेस्ट, प्री-बोर्ड पेपर को अवश्य दें जिससे अपनी तैयारी का जायजा मिलेगा और जानेंगे कि exam preparation कैसी है और इसमें किस प्रकार सुधार करने की जरूरत है।

8. Doubt Clear Session लें

कई स्कूल तथा Colleges अपने विद्यार्थियों की समस्याओं का समाधान करने के लिए Doubt clear session आयोजित करवाते है।

अतः आप भी उन Doubt clear session  में अवश्य जाएं तथा अपने Doubts को दूर करें। इसके अलावा अगर आपको कोई टॉपिक समझने या किसी question में दिक्क़त आती है तो अपने टीचर्स से जरूर पूछें, घबराएं नहीं।

9. खुद को मोटिवेटेड रखें

क्लास में टॉप करने के लिए आपका खुद को मोटिवेट रखना और पढाई के प्रति संयमित होना जरूरी है।

अक्सर देखा जाता है कि विद्यार्थी खुद की तुलना दूसरों से करने लगते है और तनाव में आ जाते है। किसी भी स्टूडेंट को यह समझना चाहिए कि वो खुद के लिए बेहतरीन है।

खुद को यह महसूस कराएं कि अगर मैं अच्छे से पढाई करूंगा तो यह मेरे Exam के लिए कितना बढ़िया है। इसमें मिली सफलता से मुझे और मेरे पेरेंट्स को कितनी ख़ुशी मिलेगी!

इस तरह आपके अंदर एनर्जी आएगी और आपका मन पढ़ाई में लगना शुरू हो जायेगा।

10. Distractions से बचें

लैपटॉप, मोबाइल फ़ोन एवं टीवी स्टडी टाइम के दौरान सबसे बड़े distractions है और इनसे बचना जरूरी है अन्यथा कोई भी student इफेक्टिव स्टडी नहीं कर पायेगा और टाइम बर्बाद करेगा। खुद के प्रति जिम्मेदार बनें और स्टडी में positive attitude रखें। यह आपको क्लास में टॉपर बनाने में बेहद help दिलाएगा।

हो सके तो study में concentrate करने के लिए स्टडी रूम में सिर्फ स्टडी सामग्री रखें। मोबाइल फ़ोन एवं लैपटॉप को किसी अलग जगह पर दूर रखें। इससे आप लगातार बिना डिस्टर्ब हुए पढ़ पाएंगे जो क्लास में टॉप करने के लिए जरूरी है।

  • पढाई के दौरान सोशल मीडिया के बारे में न सोचें।
  • किसी भी डिस्टर्बिंग चीज़ को स्टडी रूम में न रखें।
  • अगर घर पर शोर ज्यादा है या पढ़ने को सही माहौल नहीं मिल रहा है तो पास की किसी लाइब्रेरी को जॉइन करें।

11. योगा/मेडिटेशन करें

चिंता व मानसिक तनाव से बचने के लिए मेडिटेशन करना एक अच्छी युक्ति है। मेडिटेशन से हमारे शरीर में ऑक्सीजन की आपूर्ति बढ़ती है जो रक्त संचार बढ़ाने में सहायक होती है।

अतः कोशिश करें कि हफ्ते में 2-3 दिन मैडिटेशन करें जिससे मन शांत रहेगा और आप किसी भी चीज़ को अच्छे से याद कर पाएंगे। वैसे याददाश्त को बढ़ाने का meditation अच्छा विकल्प है।


Finishing with

इस लेख के जरिये जाना कि क्लास में टॉप (class me top kaise kare) करने के लिए मेहनत और पॉजिटिव सोच के साथ स्मार्ट स्टडी कैसे करें। अगर आप ऐसा करते है तो कोई भी आपको क्लास टॉप करने से नहीं रोक सकता। …तो अभी से ही लग जाइये पढाई करने में। इस समय की गई मेहनत एक दिन आपको सफलता की सीढ़ी पर पहुंचाएगी।

सफलता के बारे में स्वामी विवेकानंद ने कहा है कि…

उठो, जागो और तब तक मत रुको, जब तक लक्ष्य की प्राप्ति ना हो जाये।

Leave a Reply