छोड़कर सामग्री पर जाएँ

फ्लाइट मोड क्या होता है और इसके उपयोग की जानकारी

मोबाइल में विभिन्न प्रकार के ऑप्शन होते हैं उनमें से एक है फ्लाइट मोड या एयरप्लेन मोड लेकिन कई यूजर्स यह नहीं जानते हैं कि एयरप्लेन मोड क्या है? मोबाइल में फ्लाइट मोड क्यों होता है और फ्लाइट मोड का मतलब क्या होता है? What is Flight Mode in Hindi

अधिकतर लोग जो स्मार्टफोन का प्रयोग करते हैं, उन्हें यह जानकारी होती है कि फोन में फ्लाइट मोड होता है और कभी-कभी वे इसका इस्तेमाल भी करते हैं लेकिन इसको exactly किसके लिए बनाया गया है, इससे वे अनजान होते हैं।

ध्यान दें कि Airplane Mode को flight mode, offline mode etc. कई और नामों से भी जाना जाता है।

Airplane / Flight Mode क्या है (What is Airplane Mode in Hindi)

What is flight Mode in Hindi

फ्लाइट मोड मोबाइल का एक फीचर है जिसको ऑन करने पर मोबाइल में ट्रांसमिशन सिग्नल बंद हो जाते हैं। ट्रांसमिशन सिग्नल बंद होने का मतलब यह है कि मोबाइल में कॉल आना व जाना बंद हो जाएगी तथा ब्लूटूथ, वाईफाई इत्यादि सेंसर बंद हो जायेंगे।

इसे फ्लाइट/हवाई जहाज में मोबाइल कनेक्टिविटी रोकने के लिए बनाया गया।

अगर आपने कभी हवाई सफर किया है तो यह जरूर सुना होगा कि फ्लाइट के टेकऑफ तथा लैंडिंग करते समय मोबाइल फोन को फ्लाइट मोड में डालने को कहा जाता है क्योंकि फ्लाइट के टेकऑफ तथा लैंडिंग में सिग्नल्स (signals) का अहम रोल होता है। हवाई जहाज का सफर इसके इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम तथा एयर ट्रैफिक कंट्रोल के भेजे गए निर्देशों के अनुसार तय होता है।

मोबाइल में कनेक्टिविटी ऑन होने पर यह network से कम्यूनिकेट करने की कोशिश करता है जिसकी वजह से फ्लाइट के हवाई सिग्नल में अवरोध उत्पन्न हो सकता है जो फ्लाइट के टेकऑफ तथा लैंडिंग को misguide कर सकता है और फ्लाइट के क्रैश होने का कारण बन सकता है।

अब आप समझ गए होंगे कि मोबाइल फ्लाइट के उतरने तथा उड़ान भरने के दौरान सिग्नल में कोई अवरोध या बाधा उत्पन्न ना करें इसलिए मोबाइल में फ्लाइट मोड को ऑन करने को कहा जाता है जिससे मोबाइल में सेलुलर नेटवर्क, ब्लूटूथ, वाईफाई बंद हो जाते हैं और यह फ्लाइट के signals में कोई बाधा उत्पन्न नहीं करता है।

एयरप्लेन / फ्लाइट मोड के उपयोग (Uses of Flight Mode in Hindi)

जैसा कि आपने जान लिया है कि इसका मुख्य उपयोग हवाई यात्रा के दौरान किया जाता है ताकि फ्लाइट तथा इसकी सिस्टम के मध्य सिग्नल लोगों के आवागमन में कोई प्रतिरोध ना उत्पन्न हो।  

इसके अलावा भी मोबाइल में फ्लाइट मोड के कई उपयोग है:

  • मोबाइल फोन में फ्लाइट मोड ऑन होने पर मोबाइल जल्दी चार्ज होता है यानि इसे हम फोन को फास्ट चार्ज करने के लिए उपयोग में ले सकते हैं।
  • एरोप्लेन मोड ऑन होने के बावजूद भी हम मोबाइल में इंटरनेट का इस्तेमाल कर सकते हैं और वो है वाई-फाई के द्वारा। हालांकि मोबाइल में एयरप्लेन मोड ऑन करने पर सभी सेंसर बंद हो सके जाते हैं लेकिन फ्लाइट मोड को ऑन करने के बाद वाईफाई को ऑन किया जा सकता है। इसका फायदा यह है कि मोबाइल नेटवर्क बंद होने से आपके पास कोई कॉल या एसएमएस नहीं आएगा लेकिन आप इंटरनेट चला पाएंगे।
  • एयरप्लेन मोड ऑन होने के बावजूद आप मोबाइल में ब्लूटूथ ऑन कर सकते हैं जिससे आप वायरलेस कनेक्टिविटी द्वारा म्यूजिक तथा गानों का आनंद ले सकते हैं।

Also Check: फ़ोन का स्टोरेज भर जाए तो क्या करें

FAQs

क्या हम फ्लाइट मोड में इंटरनेट का उपयोग कर सकते हैं?

आप फ्लाइट मोड में इंटरनेट का उपयोग तब तक नहीं कर सकते जब तक कि आप इसे बंद नहीं कर देते या आप अपने फोन को वाई-फाई से कनेक्ट नहीं करते।

क्या एयरप्लेन मोड फोन को तेजी से चार्ज करता है?

जैसा आप जानते होंगे कि फ़ोन का प्रोसेसर जितना कम काम कर रहा है, फोन उतनी ही तेज़ी से चार्ज होगा तो फोन को एयरप्लेन मोड में डालने से यह थोड़ा तेजी से चार्ज होगा।

क्या एयरप्लेन मोड फोन को नुकसान पहुंचाता है?

नहीं, फोन को एयरप्लेन मोड पर रखने से इसे कोई नुकसान नहीं होता है।

अगर फ्लाइट मोड के अलावा आपको स्मार्टफोन का कोई ऐसा फीचर है जिसके बारे में जानकारी नहीं है तो आप नीचे comment के माध्यम से बता सकते है। हम आपकी request पर उस टॉपिक या फीचर की जानकारी के बारे में एक नया आर्टिकल लिख देंगें।

We Hope आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा जिसमें हमने airplane flight mode क्या है के बारे में जाना।

“फ्लाइट मोड क्या होता है और इसके उपयोग की जानकारी” पर 3 विचार

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.